iPhone का मालिक कौन है और Apple किस देश की कंपनी है

आज आपको बताउंगी की iPhone का मालिक कौन है और Apple किस देश की कंपनी है. मैंने यहाँ दो अलग अलग नाम लिए है दोनों एक ही कंपनी है. जितने भी एप्पल कंपनी के फ़ोन आते है उन्हें आईफ़ोन कहते है. और इसके लैपटॉप को MacBook के नाम से जाना जाता है. वैसे तो एप्पल कंपनी बहुत सारे प्रोडक्ट बनाती है. लेकिन इसके कंप्यूटर और मोबाइल फ़ोन काफी ज्यादा लोकप्रिय है.

हर व्यक्ति चाहता है की मेरे पास MacBook और आईफ़ोन हो इसके ये दोनों ही प्रोडक्ट दिखने में और चलाने में बहुत ही शानदार होते है. अन्य कंपनी के फ़ोन और लैपटॉप से इसकी कीमत काफी अधिक होती है. जितना अधिक मूल्य ये अपने प्रोडक्ट का लेते है उससे कई गुना अधिक फीचर और स्पीड भी देते है.

इनका कोई भी प्रोडक्ट हो कभी भी हैंग की प्रॉब्लम देखने को नहीं मिलती है. यह हमेशा क्वालिटी पर फोकस करती है और अपने कस्टमर को क्वालिटी प्रोडक्ट प्रदान करती है. इतना महंगा प्रोडक्ट होने का सबसे बड़ा कारण यही है की इनका फ़ोन यह लैपटॉप एक अच्छी क्वालिटी का होता है.

दुनिया में जितने भी अमीर लोग है वह हमेशा Apple के प्रोडक्ट ही यूज़ करना पसंद करते है. इसके कस्टमर हर देश में देखने को मिल जाते है. ऐसा कोई भी देश नही है जहाँ एप्पल का प्रोडक्ट यूज़ ना होता हो हर व्यक्ति इनका प्रोडक्ट खरीदना चाहता है.

iPhone का मालिक कौन है

आपको बता देती हूँ की Apple का मालिक स्टीव जॉब्स, स्टीव वोज्नीएक और रोनाल्ड वायने है जिन्होंने इस कंपनी की शुरुआत 1 अप्रैल 1976 को कूपरटिनो, कैलिफ़ोर्निया अमेरिका से की थी. इस कम्पनी को ऊँचाइयों तक ले जाने में स्टीव जॉब्स ने कड़ी मेहनत की है. हालाँकि अब यह इस दुनिया में नहीं है. इनका देहान्त 5 अक्टूबर 2011 को पालोआल्टो, अमेरिका में हो गया था.

इस कंपनी के मालिक स्टीव जॉब्स के देहान्त के बाद अब टीम कुक इसका CEO पद का कार्यभार संभाल रहे है. जो की 24 अगस्त 2011 सीईओ पद पर कार्यरत है. यह Apple के अधिकारी होने के साथ साथ एक सबसे बड़े शेयरधारक भी है.

iPhone किस देश की कंपनी है

Apple अमेरिका की मल्टी नेशनल टेक्नोलॉजी कंपनी है. और इसके मालिक स्टीव जॉब्स अमेरिका के नागरिक थे और इन्होंने इस कंपनी की शुरुआत भी अमेरिका के कुपरटिनो कैलिफोर्निया शहर से की गई थी.

ज्यादातर लोग इसके आईफ़ोन और MacBook के बारे में जानते है. लेकिन Apple कंपनी इसके अलावा भी अन्य बहुत सारे प्रोडक्ट और सर्विस प्रदान करती है. जिसमे कंप्यूटर सॉफ्टवेर और इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम भी है.

iPhone किसी भी एंड्राइड की तरह काम नहीं करता है यह बिलकुल इससे अलग होता है. इसमें यूज़ होने वाली एप्स इसके खुद के ऐप स्टोर पर उपलब्ध होती है जैसे आप प्ले स्टोर से ऐप को डाउनलोड करते है उसी तरह App स्टोर होता है जहाँ से आप किसी भी ऐप को डाउनलोड करके इस्तेमाल कर सकते है. और इसका ऑपरेटिंग सिस्टम एप्पल का खुद का बनाया हुआ होता है.

इसमें एंड्राइड का कोई भी ऐप काम नही करता है. जितनी भी कंपनी या कोई ऐप बनाने वाला व्यक्ति होता है वह प्ले स्टोर और ऐप स्टोर दोनों के लिए ऐप बिल्ड करता है. जो व्यक्ति एंड्राइड फ़ोन जैसे विवो, ओप्पो और अन्य किसी भी कंपनी का फ़ोन यूज़ करते है उनके लिए प्ले स्टोर होता है जहाँ से किसी भी ऐप्स को डाउनलोड किया जा सकता है. और जो व्यक्ति आई फ़ोन यूज़ करते है उनके लिए IOS ऐप होती है जिसे ऐप स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है.

आशा करती हूँ की आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी और अब आपको यह भी पता चल गया होगा की Iphone का मालिक कौन है और Apple किस देश की कंपनी है. साथ में लोगों को यह डाउट होता है की क्या आईफ़ोन और एप्पल अलग अलग है. जैसे आपको पहले भी बताया था की यह दोनों अलग कंपनी नहीं है. यह एक ही कंपनी है, और जितने भी इसके फ़ोन आते है उन्हें iPhone के नाम से मार्किट में जाना जाता है. और इसके लैपटॉप को MacBook के नाम से पुकारा जाता है. और इनकी कंपनी का नाम Apple है.

यह भी पढ़े:

Apple की एक दिन की कमाई

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

error: Content is protected !!
Navya Verma
Logo