KYC का फुल फॉर्म क्या है और इसका सही मतलब क्या होता है

चलिये आज जानते है KYC का फुल फॉर्म और इसका मतलब क्या होता है शायद आपने इस नाम को काफी बार सुना होगा लेकिन इसकी जरुरत क्यों पड़ती है यह KYC क्या होती है यह सवाल आपने मन में कभी न कभी तो जरुर आया होगा लेकिन यहाँ आपको इस से जुड़ी हर जानकारी मिल जाएगी. इसलिए आप से गुजारिस करती हूँ की इसे पूरा पढ़े और आगे दुसरे लोगों तक भी पहुंचाएं ताकि उनको भी इसका ज्ञान हो जाये.

इस KYC के शब्द को ज्यादातर आपने Paytm के लिए या फिर किसी बैंक में खाता खुलवाते समय सुना होगा क्योंकि आज हर व्यक्ति पेटीऍम का इस्तेमाल करता है और यदि इसे यूज़ करना है तो आपको इसका KYC करना जरुर जरुरी होता है. यह के.वाई.सी आप आधार कार्ड के जरिये भी कर सकते है तथा पेटीऍम के एजेंट के पास जाकर भी करवा सकते है.

इसी तरह जब आप बैंक में अकाउंट ओपन करवाते है तो वहां भी आपकी KYC होती है जो ज्यादातर आधार कार्ड के जरिये की जाती है जब बैंक में KYC होती है तो जो नाम और एड्रेस आपका आधार कार्ड में है वही सारी डिटेल आटोमेटिक आपके एक फिंगर लगाने से या आपके आधार कार्ड नंबर पर आये ओ.टी.पी के जरिये सारी जानकारी बैंक के पास चली जाती है.

इसे सरल भाषा में समझे तो इसका सही मतलब यही है की कस्टमर के बारे में जानना या पहचानना आपकी KYC करने के बाद आपकी सारी जानकारी बैंक या जहाँ भी आप KYC करवा रहे है उनके पास चली जाती है. जिससे उनको आपका नाम, एड्रेस, पिता का नाम और कुछ अन्य डिटेल्स जो उनको जरुरत पड़ती है वह उनके पास चली जाती है. इसी को KYC कहते है.

KYC का फुल फॉर्म

के.वाई.सी का फुल फॉर्म Know Your Customer है. यह एक सिंपल और आसान तरीका होगा है किसी भी कस्टमर के बारे में जानने और उसे पहचानने का ताकि ज्यादा कागजी कार्य ना करना पड़े और EKYC के जरिये कस्टमर का खाता खोला जा सके या कोई और सेवा के लिए भी ई.के.वाई.सी करके उसके बारे में जानकारी ली जा सके.

कुछ लोगों को आगे E लगा दिया तो इसका मतलब भी बताना पड़ेगा तो उसका मतलब होता है इलेक्ट्रॉनिक तरीके से KYC करने को E-KYC कहते है.

आशा करती हूँ की आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी और अब आपको यह भी पता चल गया होगा की KYC का फुल फॉर्म क्या है और इसका मतलब क्या होता है. आजकल हर जगह ई.के.वाई.सी के जरिये ही कस्टमर के बारे में जानकारी प्राप्त की जाती है. और यह तरीका बिलकुल आसान भी होता है जिससे किसी भी कर्मचारी को उससे ज्यादा कुछ पूछने की जरुरत नही पड़ती है.

यह भी पढ़े:

MBA का फुल फॉर्म क्या है

ASAP का फुल फॉर्म क्या है

Leave a Comment